home page

इस महिला ने तो 5 गायों से डेयरी की शुरुआत, अब प्रतिदिन बेचती हैं 650 लीटर दूध


जानिए इस महिला की सक्सेस स्टोरी, राजेश्वरी की कामयाबी की कहानी 2019 में शुरू हुई

ताजा खबरों, बिजनेस, केरियर व नौकरी संबंधित खबरों के लिए

व्हाट्सअप ग्रुप

से जुड़े

 | 
file photo

mahendra india news, new delhi

आज महिलाएं किसी भी क्षेत्र में पीछे नहीं है। अब महिलाएं पशुपालन में भी पहचान बना रही है। अब बात करते हैं
टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार महिला किसान राजेश्वरी की, इस महिला की आयु 39 वर्ष है। राजेश्वरी कर्नाटक के तुमकुरु जिले के सूखाग्रस्त कोराटागेरे तालुका की रहने वाली हैं। इन्होंने डेयरी क्षेत्र में कामयाबी की कहानी लिखी है। 

आपको बता दें कि इस महिला राजेश्वरी की कामयाबी की कहानी 2019 में शुरू हुई। उन्होंने घर पर गौपालन शुरू किया. हालांकि, यह रास्ता चुनौतियों से भरा था। इसमेंं चारे की आपूर्ति से लेकर पशु चिकित्सा देखभाल जुटाना शामिल था। बता दें कि देश में महिलाएं अब आत्मनिर्भर बन रही हैं. वह हर क्षेत्र में पुरुषों के साथ कंधा से कंधा मिलाकर चल रही हैं। 


आपको बता दें कि आज इस महिला के पास 40 से अधिक गायें हैं और वह प्रतिदिन 600 लीटर से अधिक दूध का उत्पादन कर रही हैं। महिला राजेश्वरी ने पांच साल पहले सिर्फ 5 गायों के साथ डेयरी फार्मिंग की शुरुआत की थी. आज राजेश्वरी ने मेहनत से अपने फार्म को एक संपन्न उद्यम में बदल दिया है, जिसमें अब 46 गायें हैं. इन गायों से हर दिन 650 लीटर दूध का उत्पादन होता है। डेयरी क्षेत्र में उनकी उपलब्धि के लिए इंडियन डेयरी एसोसिएशन (आईडीए) ने उन्हें पिछले सप्ताह बेंगलुरु में सर्वश्रेष्ठ महिला डेयरी किसान का पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया। 


महिला राजेश्वरी ने बताया कि उनकी कड़ी मेहनत और गुणवत्तापूर्ण चारे की खेती के कारण, लाभ मार्जिन धीरे-धीरे बढ़ने लगा। इसके  बाद गायों की संख्या बढ़ानी शुरू कर दी। उनके पास जर्सी और होल्स्टीन फ़्रीज़ियन नस्लों की गायें हैं। राजेश्वरी ने बताया कि आज मेरे पास 46 गायें हैं. राजेश्वरी का फार्म कर्नाटक मिल्क फेडरेशन को रोजाना 650 लीटर दूध का देता, जिससे 7 लाख रुपये की मासिक आय हो जाती है।