home page

आप कार्यकर्ता और पुलिस के बीच हरियाणा में यहां पर हुई धक्का मुक्की, अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी के खिलाफ प्रदर्शन किया आप नेताओं ने, पुलिस ने किया गिरफ्तार

 | 
 चुनाव से ठीक पहले अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार करना भाजपा की तानाशाही : हैप्पी रानियां
mahendra india news, new delhi

हरियाणा के सिरसा में आप कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच धक्का मुक्की हुई। आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने जिलाध्यक्ष हैप्पी रानियां के नेतृत्व में  प्रदर्शन कर रहे अनेक नेताओं और कार्यकर्ताओं को पुलिस द्वारा गिफ्तार कर लिया गया। आप कार्यकर्ता मंगलवार को आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी और कुरुक्षेत्र में शांतिपूर्ण प्रदर्शन पर पुलिस की बर्बरता के खिलाफ बीजेपी कार्यालय पर जोरदार प्रदर्शन कर रहे थे । 


इनको किया गिरफ्तार 
सिरसा में गिरफ्तार किए गए नेताओं में लोकसभा अध्यक्ष कुलदीप गदराना, राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य वीरेंद्र कुमार, जिला सचिव शाम मेहता, पूनम गोदारा, सरोज मानव, राजेश मालिक, सुरजीत बेगू, अनिल चंदेल, हंस राज सामा आदि शामिल थे। इस दौरान आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने बीजेपी सरकार की तानाशाही के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।   

WhatsApp Group Join Now


जिला अध्यक्ष हैप्पी रानियां ने कहा कि भाजपा की तानाशाही का खात्मा आम आदमी पार्टी और अरविंद केजरीवाल करेंगे।उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार द्वारा चुनाव से ठीक पहले अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार करना भाजपा की तानाशाही है और भाजपा देश को तानाशाही शासन की ओर ले जा रही है। भाजपा अरविंद केजरीवाल से डरी हुई है। भाजपा की अरविंद केजरीवाल पर कार्रवाई केवल राजनीति से प्रेरित है। राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य वीरेंद्र कुमार ने कहा पूरा हिंदुस्तान देख रहा है कि भाजपा देश में किस प्रकार लोकतंत्र का हनन कर रही है। भाजपा सरकार महंगाई, बेरोजगारी और बढ़ते अपराध पर बात न करके जनता का ध्यान भटकाना चाहती है। लेकिन अब प्रदेश और देश की जनता भाजपा की मंशा समझ चुकी है। जनता लोकसभा चुनाव में देश के संविधान और लोकतंत्र को बचाने के लिए वोट करेगी।

इस दौश्रान लोकसभा अध्यक्ष कुलदीप गदराना ने कहा कि अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी के विरोध में जब आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता मुख्यमंत्री नायब सैनी के आवास का घेराव करने गए तो पुलिस ने शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं पर बर्बरतापूर्ण कार्रवाई की। जो देश के लोकतंत्र के लिए बेहद निंदनीय है। उन्होंने कहा कि पुलिस द्वारा की गई कार्रवाई में आम आदमी पार्टी के 55 कार्यकर्ताओं को गंभीर चोटें आईं। जिनको कुरुक्षेत्र के सिविल अस्पताल में दाखिल करना पड़ा। पुलिस ने बीजेपी के इशारे पर कार्रवाई करते हुए कार्यकर्ताओं और नेताओं के के सिर पर जानलेवा वार किए, किसी का पैर तोड़ दिया तो किसी के हाथ में फ्रेक्चर कर दिया। 


जिला सचिव शाम मेहता ने कहा कि कुरुक्षेत्र में आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ सुशील गुप्ता और वरिष्ठ प्रदेश उपाध्यक्ष अनुराग ढांडा तक को गंभीर रूप से घायल किया गया। आम आदमी पार्टी ने आचार संहिता लागू होने के बावजूद पुलिस की इस तरह की बर्बरतापूर्ण कार्रवाई की कड़ी निंदा की। उन्होंने कहा कि बीजेपी नेताओं के इशारे ये कार्रवाई की गई है। जिला मीडिया प्रभारी प्रदीप सचदेवा ने आज पुलिस द्वारा शांति पूर्वक प्रदर्शन कर रहे कार्यकर्ताओं के साथ जो व्यवहार किया गया वह किसी लोकतांत्रिक देश में शर्मनाक बात है।


इस दौरान चंद्र बेगू, रवि कंबोज, इकबाल सिंह सलारपुर, सतीश मोमी, दर्शन कौर, पवन गोयल, सुकेश अरोड़ा, महावीर चुबुर्जा, मास्टर हरबंस, छिंदर सिंह सलारपुर, सुमन चोपड़ा, रेणु चोपड़ा, तरसेम सामा, विजय मोंगा आदि शामिल थे। प्रदर्शन में राकेश जैन, मक्खन सिंह, राज कुमार वाधवा, सुखदेव सलारपुर, ब्लोर सिंह झोराडरोही मौजूद रहे।