home page

लोकसभा चुनाव से पंचायत प्रतिनिधियों और आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को दिया बड़ा तोहफा

सरपंच और उप सरपंच को मिलेगा ये मानदेय 

ताजा खबरों, बिजनेस, केरियर व नौकरी संबंधित खबरों के लिए

व्हाट्सअप ग्रुप

से जुड़े

 | 
सरपंच और उप सरपंच को मिलेगा ये मानदेय 

mahendra india news, new delhi

लोकसभा चुनाव से पहले सभी पार्टी के नेता जनता को लुभाने में लगे हुए हैं। अब बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने लोकसभा चुनाव से पहले बड़ा पेंच खेला है। मंत्रिमंडल ने प्रदेश में पंचायत प्रतिनिधियों और आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को दिए जाने वाले मासिक मानदेय में वृद्धि करने की मंजूरी दी गई है। प्रदेश में मुखिया और उप मुखिया को दोगुणा वेतन मिलेगा। 

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में मंत्रिमंडल की हुई बैठक के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए मंत्रिमंडल सचिवालय के अपर मुख्य सचिव (ACS) एस सिद्धार्थ ने बताया कि मंत्रिमंडल ने पंचायत प्रतिनिधियों और आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं (सेविकाओं और सहायिकाओं) को दिए जाने वाले मासिक मानदेय में बढ़ोतरी को मंजूरी दे दी है।


उन्होंने बताया कि पंचायतों के मुखिया और उप मुखिया को क्रमश: 2500 से 5000 रुपये  2500 (मौजूदा 1200 रुपये प्रति माह) का मासिक मानदेय मिलेगा। इसी तरह सरपंच और उप सरपंच को अब क्रमश: 5000 रुपये (मौजूदा 2,500 रुपये प्रति माह) और 2,500 रुपये (मौजूदा 1200 रुपये प्रति माह) मिलेंगे। इसलिए इन पंचायत प्रतिनिधियों के मानदेय में 100 प्रतिशत की बढ़ोतरी की गयी है. इसके अलावा वार्ड सदस्यों का मासिक मानदेय भी 500 से बढ़ाकर 800 कर दिया गया है।


बिहार सरकार के इस फैसले का फायदा करीबन 2.50 लाख से अधिक पंचायत प्रतिनिधियों को होगा। मंत्रिमंडल ने प्रदेश में करीबन 2.30 लाख आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं (सेविकाओं और सहायिकाओं) को दिए जाने वाले मासिक मासिक मानदेय में भी बढ़ोतरी को मंजूरी दी है।