home page

हरियाणा में राशन कार्ड धारकों के लिए बड़ी खबर, अब नए वित्तीय वर्ष से राशन में मिलेगी ये खाद्य सामग्री

केंद्र सरकार ने लगाई हरियाणा के गरीब परिवारों की सूची पर मुहर

ताजा खबरों, बिजनेस, केरियर व नौकरी संबंधित खबरों के लिए

व्हाट्सअप ग्रुप

से जुड़े

 | 
केंद्र सरकार ने लगाई हरियाणा के गरीब परिवारों की सूची पर मुहर

mahendra india news, new delhi

केंद्र सरकार समय समय पर अनेक योजना चलाई जा रही है। जिससे लोगों को फायदा मिल सके। अब हरियाणा प्रदेश के गरीब (बीपीएल) परिवारों को राशन लेने में किसी प्रकार की मुश्बित नहीं आएगी। केंद्र सरकार व HARYANA सरकार की BPL सूची में अंतर होने की वजह से केंद्र की ओर से राशन का आवंटन वक्त से नहीं हो पा रहा था। 

आपको बता दें कि HARYANA सरकार ने केंद्र सरकार को अपने BPL परिवारों की लिस्ट भेजकर अवगत कराया है कि गया कि 1.20 की बजाय 1.80 रुपये वार्षिक आय वाले परिवार को बीपीएल की श्रेणी में रखा गया है। इसी को ध्यान में रखते केंद्र सरकार ने HARYANA के गरीबों के लिए अधिक राशन का आवंटन करने की सहमति दे दी है। इस बारे में हरियाणा सरकार के पास केंद्र का पत्र पहुंच चुका है। 

HARYANA के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाल के नाते खाद्य एवं आपूर्ति मंत्री दुष्यंत चौटाला ने रविवार को चंडीगढ़ में जानकारी देते हुए ये भी बताया कि प्रदेश सरकार उन बीपीएल परिवारों को भी उनके हिस्से का बचा हुआ राशन देगी, जो केंद्र की ओर से वक्त से आवंटन के अभाव में राशन से वंचित रह गए थे। इसी वित्तीय वर्ष से सरकार ने उपभोक्ताओं को सरसों व सूरजमुखी का तेल आवंटित करने का भी फैसला लिया है। पहले डीबीटी के माध्यम से तेल की राशि खातों में भेजी जा रही थी। अब सरकार ने यह भी विकल्प दिया है कि कोई भी परिवार सूरजमुखी या सरसों  के तेल का विकल्प दोनों में से एक चुन सकता है।


57 लाख नये नागरिक
आपको बता दें कि HARYANA प्रदेश में दिसंबर 2022 तक बीपीएल राशनकार्डों की संख्या 26 लाख 94 हजार 484 थी और लाभार्थियों की संख्या 1.22 करोड़ दर्ज हुई थी। अब नये BPL कार्ड बनने व उनका डाटा परिवार पहचान पत्र से लिंक करने के बाद ऐसे परिवारों की संख्या कम होने की बजाय बढ़ी है, जो कि 44 लाख 86 हजार 954 पर पहुंच गई, जबकि लाभार्थियों की संख्या 1.79 लाख दर्ज की गई।