home page

अयोध्या को लेकर बड़ी खबर, ट्रैफिक की भीड़ कम करने के लिए ग्रीनफील्ड बाईपास बनाने की विशेष मंजूरी मांगी

भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण ने इस 4/6 लेन के हाईवे के लिए टेंडर आमंत्रित किया

ताजा खबरों, बिजनेस, केरियर व नौकरी संबंधित खबरों के लिए

व्हाट्सअप ग्रुप

से जुड़े

 | 
भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण ने इस 4/6 लेन के हाईवे के लिए टेंडर आमंत्रित किया

mahendra india news, new delhi

अयोध्या में भक्तों की भीड़ बढ़ने लगी है। भविष्य में भी अधिक ट्रैफिक रहेगा। इसी को लेकर भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण  ने इस 4/6 लेन के हाईवे के लिए टेंडर आमंत्रित किए है, अयोध्या और आसपास के एरिया में बढ़ते ट्रैफिक जाम को कम करने के लिए सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय सक्रिय हो गया है। मंत्रालय ने केंद्र से 3,570 करोड़ रुपये के निवेश के साथ 68 किलोमीटर लंबा ग्रीनफील्ड बाईपास बनाने की विशेष मंजूरी मांगी है।


आपको बता दें कि अयोध्या और आसपास के एरिया में बढ़ते ट्रैफिक जाम को कम करने के लिए सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय सक्रिय हुआ है। इसी को लेकर मंत्रालय ने केंद्र से 3,570 करोड़ रुपये के निवेश के साथ 68 किलोमीटर लंबा ग्रीनफील्ड बाईपास बनाने की विशेष मंजूरी मांगी है। भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण ने इस 4/6 लेन के हाईवे के लिए टेंडर आमंत्रित किए हैं। 


बता दें कि यह हाईवे लखनऊ, बस्ती और गोंडा जिलों को कवर करेगा। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार यह परियोजना दो भागों में  है। इसका प्रथम उत्तर अयोध्या और दक्षिण अयोध्या बाईपास होगी। यह योजना अयोध्या के राम मंदिर के उद्घाटन के बाद क्षेत्र में यात्री और मालवाहक वाहनों की आवाजाही में उच्च बढ़ोतरी की संभावना को ध्यान में रखते हुए बनाई गई है। 

बता दें कि अनुमान के अनुसार 2033 में यातायात मौजूदा 89,023 रोजाना से बढ़कर 2.17 लाख रोजाना हो सकता है। बाइपास को सार्वजनिक-निजी भागीदारी मोड पर बनाया जाएगा।


जानकारी में पता चला है कि विशेष मंजूरी इसलिए मांगी गई है क्योंकि वित्त मंत्रालय ने सड़क मंत्रालय को फिलहाल भारतमाला के तहत कोई नई परियोजना शुरू नहीं करने के लिए कहा है। उन्होंने कहा कि चूंकि परियोजना की लागत करीबन एक हजार करोड़ रुपये से अधिक है। इसलिए मंत्रालय को पीपीपी परियोजनाओं का मूल्यांकन करने वाली शीर्ष समिति से अनुमोदन हासिल करने की जरूरत है।