home page

Business Idea: करोड़पति बना देगी इस नस्ल की भैंस, आज ही ले आएं घर, दूध से भर देगी भंडार

 | 
  Business Idea: करोड़पति बना देगी इस नस्ल की भैंस, आज ही ले आएं घर, दूध से भर देगी भंडार
Business Idea: किसान खेती के साथ-साथ पशुपालन करके अच्छी कमाई कर रहे हैं। अगर आप भी पशुपालन के जरिए मोटा पैसा कमाना चाहते हैं तो आपके लिए काम की खबर है। 

ऐसे में आप भी दूध का बिजनेस कर सकते हैं और यह आज के समय में काफी तेजी से बढ़ रहा है. गांवों से लेकर शहरों तक लोग इस बिजनेस को करने लगे हैं और इसमें अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं और इसी वजह से लोग इसे और भी करने लगे हैं.

दूध के व्यवसाय के लिए लोग भैंस के दूध को प्राथमिकता देते हैं। लेकिन उन्हें यह नहीं पता होता है कि उन्हें किस नस्ल की भैंस खरीदनी चाहिए, जिससे उन्हें अच्छी गुणवत्ता वाला दूध अधिक मात्रा में मिल सके।

आज इस आर्टिकल में हम आपको भैंस की तीन ऐसी नस्लों के बारे में बताने जा रहे हैं। जिससे आपको रोजाना कम से कम 70 से 80 लीटर दूध मिल सकता है, यह आपके लिए बहुत फायदेमंद साबित होगा।

मुर्रा भैंस
अगर आप अपने घर में एक शानदार भैंस का जोड़ा लाना चाहते हैं तो आपको मुर्रा नस्ल की भैंस लानी चाहिए। मुर्रा भैंस की एक उत्कृष्ट नस्ल है, जो प्रतिदिन बहुत सारा दूध देती है। इस भैंस का दूध बहुत गाढ़ा होता है और यह आपको प्रतिदिन 70 से 80 लीटर दूध दे सकती है।

WhatsApp Group Join Now

 इस भैंस का वजन 450 से 500 किलोग्राम होता है और इसका पहला बच्चा 40 से 42 महीने की उम्र में होता है। तो इसकी दूसरी बैअत 15 से 16 महीने की होती है. यह भैंस बायत के समय 5500 से 6000 लीटर दूध देती है तथा प्रतिदिन 65-80 लीटर दूध देती है।

जाफराबादी नस्ल की भैंस

जाफराबादी नस्ल की भैंस बहुत लोकप्रिय है और यह भैंस बहुत अधिक मात्रा में दूध देती है और इसे पालने वाले व्यक्ति को इससे बहुत लाभ मिलता है। इस भैंसे का वजन करीब 550 किलोग्राम है.

इसकी पहली बैअत 45-47 महीने पर होती है, दूसरी बैअत 16-17 महीने पर होती है। ब्यात के समय यह भैंस आपको 4000 से 5000 लीटर दूध दे सकती है और यह आपको प्रतिदिन 65-70 लीटर दूध देती है।

मेहसाणा नस्ल की भैंस

मेहसाणा नस्ल की भैंस भी अच्छी भैंसों की सूची में शामिल है। इस भैंस का दूध गाढ़ा और अच्छी गुणवत्ता वाला होता है, यह अधिक मात्रा में दूध भी देती है। इस भैंसे का वजन करीब 500-560 किलोग्राम है.

इसकी पहली बैअत 46 महीने की और दूसरी बैअत 15-16 महीने की होती है। इस ब्यात के दौरान वह 3500 से 4000 लीटर दूध उपलब्ध कराती है। इसके अलावा यह आपको रोजाना 70 से 80 लीटर दूध देता है.