home page

केंद्र सरकार ने 3 किलोवाट के सोलर पर बढ़ा दी सब्सिडी, बिजली बिल से पाए छुटकारा

इतने यूनिट बिजली व इतने रुपये की होगी बचत 

ताजा खबरों, बिजनेस, केरियर व नौकरी संबंधित खबरों के लिए

व्हाट्सअप ग्रुप

से जुड़े

 | 
इतने यूनिट बिजली व इतने रुपये की होगी बचत 

mahendra india news, new delhi

आज के समय में बचत करना बहुत जरूरी हो गया। घरों में बिजली का खर्च भी बजट बिगड़ रहा है। अब घर के बजट को आसान करने के लिए देश की वित्त मंत्री निर्मला सीता रामण ने बीते एक फरवरी को अंतरिम बजट में कई अहम ऐलान किए। इसमें भी एक बड़ा फैस्ला एक करोड़ घर की छत पर सोलर पैनल लगाने का था। इसके माध्यम से लाभार्थी को 300 यूनिट तक की फ्री बिजली और प्रति साल 18000 रुपये तक की बचत होगी। 


आपको बता दें कि अब मोदी सरकार की इस स्कीम पर केंद्रीय ऊर्जा मंत्री आरके सिंह ने विस्तार से बात की है। तो उन्होंने बताया कि एक करोड़ परिवार के घर की छत पर सोलर पैनल लगाया जाएगा। इन पैनल के लगाने से लेकर मेंटेनेंट तक का कार्य सरकार करेगी। 


उन्होंने ये भी बताया कि 3 किलोवाट तक सरकार 40 प्रतिशत सब्सिडी दे रही है, इसे बढ़ाकर 60 फीसद किया जाएगा। इसके बाद लोन लेना होगा। यह लोन पब्लिक सेक्‍टर की कंपनियां लेंगी और वही सिस्‍टम लगाएंगी। 

उन्होनें बताया कि सोलर सिस्‍टम लगने के साथ ही परिवार की बिजली फ्री हो जाएगी।


ऐसे होगी कमाई 
आपको बता दें कि दरअसल, छत पर जो सोलर सिस्‍टम लगाए जाएंगे वो 300 यूनिट से अधिक बिजली पैदा करेंगे। इसी के अतिरिक्त बिजली से पब्लिक सेक्‍टर की कंपनियां ऋण का भुगतान कर सकेंगी। ऐसा अनुमान है कि इससे कंपनियां ऋण का भुगतान 10 वर्ष में पूरा कर लेंगी। इसके बाद रूफ टॉप सोलर सिस्‍टम मकान मालिक का हो जाएगा। इसके बाद मकान मालिक अपने सोलर सिस्टम से जनरेट बिजली के माध्यम से बड़ी रकम बचा सकते हैं। 


केंद्र सरकार ने बजट में वित्त मंत्री सीता रमण ने कहा था कि छत पर सोलर सिस्टम लगाने से 1 करोड़ परिवार प्रत्येक माह 300 यूनिट तक नि:शुल्क बिजली प्राप्त कर सकेंगे। नि:शुल्क सोलर बिजली और बिजली वितरण कंपनियों को अधिशेष बिजली बेचने से परिवारों को हर वर्ष 15 हजार से 18 हजार रुपये की बचत होगी।