home page

Char Dham Yatra, यमुनोत्री, गंगोत्री और केदारनाथ के कपाट खुले, आज से शुरु हुई चारधाम यात्रा

 | 
यमुनोत्री, गंगोत्री और केदारनाथ के कपाट खुले

mahendra india news, new delhi

यमुनोत्री, गंगोत्री और केदारनाथ के कपाट आज खुले गये हैं। इसके लिए भक्तलंबे समय से इंतजार कर रहे थे, वहीं अब बदरीनाथा धाम के कपाट 12 मई को खुलेंगे।  हिमालय की चारधाम यात्रा आखा तीज यानि अक्षय तृतीया के मौके पर शुक्रवार को चारधाम की यात्रा शुरु हो रही है। आज यमुनोत्री, गंगोत्री और केदारनाथ के कपाट खुलने के साक्षी बनने के लिए करीबन 15 हजार तीर्थयात्री वीरवार शाम ही गंगोत्री और केदारनाथा धाम पहुंच हुए थे। वहीं 35 हजार से अधिक तीर्थयात्री विभिन्न पड़ावों पर ठहरे हुए हैं।

केदारनाथ के लिए आज से हेली सेवा भी शुरू
आपको बता दें कि केदारनाथ के लिए शुक्रवार से हेली सेवा भी शुरू हो जाएगी। उधर, तृतीय केदार तुंगनाथ धाम के कपाट भी शुक्रवार दोपहर 12 बजे खोले जाएंगे। सबसे पहले सुबह 6 बजे केदारनाथ धाम के कपाट खुले। वीरवार दोपहर 6-ग्रेनेडियर आर्मी रेजीमेंट बैंड की मधुर लहरियों के बीच बाबा केदार की पंचमुखी चल विग्रह उत्सव डोली भी केदारपुरी पहुंच गई।

WhatsApp Group Join Now

सुबह डोली गंगोत्री धाम पहुंचेगी
चारधाम में प्रथम यमुनोत्री धाम के कपाट सुबह 10:29 बजे और गंगोत्री धाम के कपाट दोपहर 12:25 बजे खोले जाएंगे। कपाट खोलने के निमित्त मां गंगा की उत्सव डोली वीरवार को शीतकालीन गद्दीस्थल मुखवा से भैरवघाटी के लिए रवाना हो गई। सुबह डोली गंगोत्री धाम पहुंचेगी। जबकि, देवी यमुना की उत्सव डोली शुक्रवार सुबह शीतकालीन गद्दीस्थल खरसाली से यमुनोत्री धाम के लिए रवाना होगी।

आपको बता दें कि कपाटोद्घाटन के लिए केदारनाथ धाम की 20 क्विंटल, गंगोत्री धाम की 21 क्विंटल और यमुनोत्री धाम की 10 क्विंटल फूलों से भव्य सजावट की गई है। उधर, तृतीय केदार की उत्सव डोली शुक्रवार सुबह चोपता से तुंगनाथ पहुंचेगी।

कपाट खुलने का समय
केदारनाथ, सुबह छह बजे

यमुनोत्री, सुबह 10:29 बजे

गंगोत्री, दोपहर 12:25 बजे

यात्रा मार्गों पर गरज-चमक के साथ वर्षा के आसार
चारधाम समेत आसपास के क्षेत्रों में शुक्रवार को वर्षा के आसार बन रहे हैं। देहरादून स्थित मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार, उत्तरकाशी, चमोली और रुद्रप्रयाग जिले में चारधाम यात्रा मार्गों पर कहीं-कहीं आकाशीय बिजली चमकने के साथ हल्की से मध्यम वर्षा हो सकती है।

4 हजार मीटर से अधिक ऊंचाई वाले क्षेत्रों में हल्की बर्फबारी संभव है। निचले इलाकों में कहीं-कहीं ओलावृष्टि और तेज हवा चलने का यलो अलर्ट जारी किया गया है। तापमान में भी एक से दो डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की जा सकती है।