home page

डायबिटीज के रोगी जरूर खाएं यह पत्तेदार सब्जी, शुगर कंट्रोल के साथ कब्ज से मिलेगा छुटकारा

 आज किसी न किसी व्यक्ति को शूगर की समस्या
 | 
आज किसी न किसी व्यक्ति को शूगर की समस्या
mahendra india news, new delhi

आज किसी न किसी व्यक्ति को शूगर की समस्या है, इसलिए उसे हर चीज से परहेज करना पड़ता है। डायबिटीज के साथ जीना किसी भी व्यक्तिके लिए आसान नहीं होता, इस दौरान खाने पीने को लेकर खास ख्याल रखना पड़ रहा है। आज के समय सेहत का ध्यान रखना बहुत ही जरूरी हो गया है। इस भागदौड़ की जिंदगी में गर्मी के मौसम में विशेष ध्यान रखना जरूरी हो गया। 


आपको बता दें कि डायटीशियन डा. पूजा बंसल के अनुसार आप पत्तागोभी से जरूर मित्रता कर लें ताकि स्वास्थ्य को काफी फायदे पहुंच सकें,  इसके लिए हरी पत्तेदार सब्जियों को हमेशा से स्वास्थ्य के लिए लाभकारी माना जाता रहा है, कैबेज खाने से आपकी बॉडी को  विटामिन, मिनरल, फाइबर और फाइटोन्यूट्रिएंट्स हासिल होंगे। इसी के साथ साथ ही इसमें मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट और एंटी इंफ्लेमेटरी प्रॉपर्टीज आपको कई बीमारियों से बचाते हैं।

WhatsApp Group Join Now

डायबिटीज में असरदार
डायटीशियन डा. पूजा बंसल के अनुसार अगर डायबिटीज है और ग्लूकोज स्पाइक का डर बना रहता है, तो रेगुलर डाइट में पत्ता गोभी खाना शुरू कर दें। क्योंकि इस सब्जी में एंटीहाइपरग्लिसेमिक इफेक्ट होते हैं जो शुगर टॉलरेंस में सुधार करते हैं। इसी के साथ ही इंसुलिन के लेवल को भी बढ़ा देते हैं


मिलेगा,कब्ज से छुटकारा
डायटीशियन डा. पूजा बंसल के अनुसार पत्ता गोभी हमारे पाचन तंत्र में भी सुधार करता है क्योंकि इसमें फाइबर, एंथोसायनिन और पॉलीफेनोल की भरपूर मात्रा पाई जाती है. अगर आपको भी कब्ज, गैस, एसिडिटी या पेट से जुड़ी कोई भी परेशानी है तो इसके लिए आज ही पत्ता गोभी खाना शुरू कर दें। 


करें वजन कंट्रोल
आपको बता दें कि बढ़ता हुआ शरीर का भार मौजूदा दौर की बड़ी समस्या बन चुका है, इससे बचने के लिए हम हेल्दी डाइट को चुनते हैं, ऐसे में पत्तागोभी बेहतरीन ऑप्शन साबित हो सकता है, क्योंकि इसमें कैलोरी काफी कम पाई जाती है और आपके पेट और कमर के आसपास की चर्बी नहीं बढ़ती। 

इम्यूनिटी होगी बूस्ट
आपको ये भी बता दें कि बदलते मौसम में अक्सर संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है, इससे सर्दी-खांसी, जुकाम और कई बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है। ऐसे में आप रेगुलर डाइट में पत्ता गोभी को जरूर शामिल करें जिससे इम्यूनिटी बूसट हो जाए। 


नोट : साथियों ये समाचार केवल जागरूक करने के मकसद से लिखी है, इसको लिखने में घरेलू नुस्खों और सामान्य जानकारियों की सहायता ली है, अपनी सेहत से जुड़ा पढ़ें तो उसे अपनाने से पहले चिकित्सक की सलाह जरूर लें।