home page

पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह से साढ़े सात घंटे तक ईडी ने की पूछताछ, मानेसर भूमि में मनी लॉन्ड्रिंग का मामला

कई किसानों का आरोप है कि इस भूमि अधिग्रहण मामले में करीबन 1500 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी की गई है 

ताजा खबरों, बिजनेस, केरियर व नौकरी संबंधित खबरों के लिए

व्हाट्सअप ग्रुप

से जुड़े

 | 
file photo

mahendra india news, new delhi

हरियाणा के पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा से ED ने मानेसर भूमि में मनी लॉन्ड्रिंग मामले को लेकर पूछताछ की गई है। पूर्व सीएम से गुरुग्राम के मानेसर में भूमि अधिग्रहण की अनियमिताओं की शिकायत के मद्देनजर प्रवर्तन निदेशालय ने एक बार फिर पूछताछ की है। आपको बता दें कि बुधवार सुबह 11.30 बजे दिल्ली में ईडी कार्यालय पहुंचे और शाम साढ़े सात बजे बाहर निकले। करीब साढ़े सात घंटे तक ईडी ने HARYANA के पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह से पूछताछ की।


पीएमएलए के तहत केस दर्ज
आपको बता देंं कि पूर्व CM भूपेंद्र सिंह हुड्डा से 2004-07 के दौरान मानेसर में भूमि अधिग्रहण के मामले में हुई मनी लांड्रिंग के सिलसिले में ईडी जांच कर रही है। बता दें कि ईडी ने धन शोधन निवारण अधिनियम (PMLA) के प्रविधानों के तहत पूर्व सीएम का दूसरी बार बयान दर्ज किया। कई किसानों ने आरोप लगाया था कि इस भूमि अधिग्रहण मामले में उनके साथ करीबन 1500 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी की गई है। प्रवर्तन निदेशालय ने हरियाणा पुलिस की एफआईआर के आधार पर सितंबर, 2016 में इस भूमि घोटाले में PMLA के तहत केस दर्ज किया था।

आपको ये भी बता दें कि इस ामामले की जांच CBI भी कर रही है। इस पूरे मामले में CBI ने पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा सहित 34 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया था। अगस्त 2014 का यह मामला है और आरोप है कि प्राइवेट बिल्डर्स ने हरियाणा सरकार के कुछ लोगों के साथ मिलीभगत कर गुरुग्राम के मानसेर, नौरंगपुर और नखड़ौला गांवों के किसानों को भूमि अधिग्रहण का डर दिखाकर उनकी करीब 400 एकड़ जमीन औने पौने दामों पर खरीद ली थी।


पूर्व CM के साथ कई आयुक्तों के नाम शामिल
इस मामले में 108.79 करोड़ रुपये की जमीन अटैच की जा चुकी है। इस मामले में वर्ष 2019 में पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा स्पेशल कोर्ट में पंचकूला पेश हुए थे। यह केस एजेएल प्लाट आवंटन और मानेसर जमीन घोटाला से ही जुड़ा हुआ था। ED इस मामले में दूसरी पूरक चार्जशीट दायर कर चुकी है। चार्जशीट में भूपेंद्र सिंह हुड्डा के अलावा उनके मुख्यमंत्रित्व काल में प्रधान सचिव रहे ML तायल, छतर सिंह और नगर आयोजन विभाग के आयुक्त रहे SS ढिल्लों सहित पूर्व डीटीपी जसवंत सहित कई बिल्डरों का नाम है।