home page

हिसार के कुलेरी गांव में तेंदुआ की तलाश में लगी तीन जिलों की वन्य विभाग की टीमें

वन्य-प्राणी विभाग की टीम ने कुलेरी के अलावा बुढ़ाखेड़ा, बगला गांव में भी सर्च ऑपरेशन चलाया 

ताजा खबरों, बिजनेस, केरियर व नौकरी संबंधित खबरों के लिए

व्हाट्सअप ग्रुप

से जुड़े

 | 
file photo

mahendra india news, new delhi 

हिसार जिले के गांवों में तेंदुआ देखे जाने की खबर पर वन्य प्राणी विभाग की टीम ने गांव कुलेरी में अब डेरा डाल दिया गया। गांव में लगातार कोई जानवर देखे जाने की सूचनाएं विभाग को मिल रही हैं। गांव में कोई जानवर देखे जाने की सूचना पर टीम ने गांव में जाकर तलाश की गई। वन्य-प्राणी विभाग की टीम ने कुलेरी के अलावा बुढ़ाखेड़ा, बगला गांव में भी सर्च ऑपरेशन चलाया गया।

आपको बता दें कि वन्य विभाग की टीम ने कुलरी गांव में करीब एक सप्ताह तक सर्च अभियान चलाएगी। इस टीम में वन्य प्राणी विभाग हिसार, सिरसा, फतेहाबाद से भी टीम सर्च अभियान में जुट गई है। गांव कुलेरी में एक ढाणी में जंगली जानवर के पंजों के निशान मिले हैं। 


बताया जा रहा है कि टीम को यहां पर एक मकान के बरामदे में खून के छींटे भी मिले हैं। हालांकि वन्य विभाग के अधिकारियों के अनुसार इस मकान में तीन कुत्ते भी पाले हुए है। इसी के साथ कोई मरा हुआ जानवर मिला है और जो पंजों के निशान मिले है, उनमें भी अभी तक संशय है। 

विभाग के इंस्पेक्टर दिनेश जांगड़ा ने बताया कि उनके पास जिला पार्षद अजय कुमार का मोबाइल फोन आया था।
ये बताया गया कि ढाणी में रात्रि को कोई जानवर मारा गया है। वहां पहुंचे तो जंगली जानवर के पंजों के निशान व खून के छींटे मिले थे, लेकिन यह तेंदुआ ही है, इसके कोई सबूत अभी नहीं मिला है। वन्य-प्राणी विभाग की टीम ने कुलेरी के अलावा बुढ़ाखेड़ा, बगला गांव में भी सर्च ऑपरेशन चलाया गया।