home page

हरियाणा में बीजेपी राज में बिना खर्ची नौकरी, घर बैठे बनी बुढ़ापा पेंशन, ऑनलाइन हुए ट्रांसफर: मनोहर लाल

भाजपा के स्टार प्रचारक मनोहर लाल से मिलने को लेकर लोगों में जबरदस्त उत्सुकता का भाव 
 | 
 हरियाणा में बीजेपी राज में बिना खर्ची नौकरी, घर बैठे बनी बुढ़ापा पेंशन, ऑनलाइन हुए ट्रांसफर: मनोहर लाल 
नीलोखेड़ी (करनाल): हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर लाल बुधवार सुबह करनाल लोकसभा क्षेत्र के नीलोखेड़ी विधानसभा क्षेत्र में जनसंपर्क यात्रा पर निकले। इस दौरान दर्जन भर गांव में जनसभाओं के माध्यम से उन्होंने पूरे विधानसभा क्षेत्र को कवर किया। लोगों में अपने नेता से मिलने की होड़ लगी रही।

पूर्व मुख्यमंत्री ने अनेक गांवों में लोगों से सीधा संवाद करते हुए मोदी सरकार और हरियाणा सरकार की अनेक योजनाएं गिनाई। मनोहर लाल ने इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथ मजबूत करने के लिए हरियाणा की सभी 11 सीटों पर कमल का फूल खिलाने का आह्वान किया। 

नीलोखेड़ी मे उमड़ी भीड़ इस बात का सूचक थी कि लोगों के मन में मनोहर लाल के प्रति प्रेम है। आखिर प्रेम हो भी क्यों नहीं,करीब डेढ़ साल पहले 6 सितंबर 2022 को मनोहर लाल ने नीलोखेड़ी की दशकों पुरानी मांग इसे उपमंडल का दर्जा देने का काम किया था।

आज सुबह शुरू हुई यह जनसंपर्क यात्रा वंदे मातरम, भारत माता की जय और नरेंद्र मोदी तथा मनोहर लाल जिंदाबाद के नारों से पूरे इलाके को गुंजायमान कर रही थी। इस अवसर पर भाजपा नेता तथा घरौंडा से विधायक हरविंदर कल्याण और पिछले चुनाव में यहां से भाजपा के प्रत्याशी रहे भगवान दास कबीरपंथी मुख्य रूप से उपस्थित थे। 

WhatsApp Group Join Now

पूर्व मुख्यमंत्री ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि 1947 में संविधान में कांग्रेस ने एक धारा ऐसी जोड़ी थी, जिससे लगने लगा था कि कश्मीर देश से भी बड़ा हो गया। उस समय यह धारा किसी को समझ नहीं आई।  इस धारा के कारण कश्मीर जल रहा था और पाकिस्तान आंखें दिखा रहा था।

ऐसे में नरेंद्र मोदी ने एक कलम से इस धारा को तोड़ दिया। कांग्रेस यह कहती थी कि अगर धारा 370 हटाई गई तो खून की नदियां बह जाएंगी लेकिन धारा टूटने के बाद किसी को खरोंच तक नहीं आई। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि यह धारा टूटने के बाद अब जम्मू कश्मीर भी देश के अन्य राज्यों की तरह भारत का अभिन्न अंग है। 

पूर्व मुख्यमंत्री ने अपने इस दौरे के दौरान जहां केंद्र सरकार की नीतियों की जमकर प्रशंसा की वहीं उन्होंने कहा कि साढ़े 9 साल हरियाणा में मुख्य सेवक के रूप में कार्य करते हुए लोगों की समस्याओं का समाधान करने का काम किया है।

पूर्व मुख्यमंत्री ने हरियाणा सरकार की बिना खर्ची बिना पर्ची नौकरी देने की योजना, ऑनलाइन ट्रांसफर सिस्टम, अपने आप बुढ़ापा पेंशन बनना, फैमिली आईडी के माध्यम से बीपीएल कार्ड अपने आप बनना का जिक्र किया।

उन्होंने कहा कि पहले इन सब कामों के लिए लोगों को मंत्रियों, विधायकों के चक्कर काटने पड़ते थे और हजारों रुपए खर्च करने पड़ते थे। नौकरी के मामले में तो जमीन बेचकर नौकरी मिलती थी लेकिन आज लोगों को यह सब सुविधा बिना चक्कर काटे और बिना एक रुपया खर्च किए मिल रही हैं।

 

चुनाव धर्म और अधर्म के बीच की लड़ाई और धर्म नरेंद्र मोदी के साथ: पूर्व मुख्यमंत्री 

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि अब तक वह हरियाणा में लोगों की सेवा कर रहे थे लेकिन नरेंद्र मोदी ने अब उन्हें दिल्ली बुला लिया है। वह जो भी उन्हें दायित्व सौंपेंगे, वह उस पर खरा उतरने का प्रयास करेंगे। उन्होंने कहा कि 24 में होने वाला चुनाव कोई साधारण चुनाव नहीं है।

यह धर्म और अधर्म के बीच की लड़ाई है। धर्म नरेंद्र मोदी के साथ है और अधर्म कांग्रेस के साथ है। लोगों द्वारा इतनी बड़ी संख्या में सुबह-सुबह घर से बाहर निकाल कर सड़क पर आकर उनका स्वागत करने के लिए मनोहर लाल ने लोगों का आभार व्यक्त किया और कहा कि दिल्ली में रहकर भी वह इस क्षेत्र के लोगों की समस्याओं के समाधान के लिए हर समय उपलब्ध रहेंगे।

एक-एक परिवार से चार-चार बच्चे नौकरी लगे 

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि एक-एक परिवार से चार-चार बच्चे नौकरी लगे हैं और वह भी बहुत गरीब परिवार से। उन्होंने जिक्र किया कि दो दिन पहले एक व्यक्ति उनसे मिला और उसने कहा कि उनकी सरकार में उनके परिवार के चार बच्चे नौकरी लगे हैं। इतनी नौकरियों की उन्हें जरूरत नहीं है।

वह खुद नायब तहसीलदार लगा है और चाहता है कि नौकरी छोड़कर उनके साथ काम करे। मुख्यमंत्री ने कहा कि राजनीति लोगों से ताकत लेकर लोगों के काम करने के लिए है और उन्होंने यही काम किया है। यही कारण है कि लोगों का समय लोगों का प्यार उन्हें लगातार मिल रहा है। इसी के बलबूते पर वह 4 जून को भारी बहुमत से चुनाव जीत कर नरेंद्र मोदी के हाथ मजबूत करने का काम करेंगे।