home page

Onion: लोकसभा चुनावों के बीच केंद्र सरकार का मोटा निर्णय, प्याज के एक्सपोर्ट से प्रतिबंध हटाया

 | 
 प्याज के एक्सपोर्ट से प्रतिबंध हटाया
mahendra india news, new delhi

देश में लोकसभा चुनाव हो रहे हैं। केंद्र सरकार द्वारा हित में अभी भी बड़े फैसले लिए जा रहे हैं। अब प्याज को लेकर बड़ा निर्णय लिया गया है। बता दें कि लोकसभा चुनावों के बीच केंद्र सरकार ने प्याज निर्यात पर बैन हटा दिया गया, हालांकि इसके साथ न्यूनतम निर्यात मूल्य 550 डॉलर प्रति टन तय किया है।


इसके लिए जारी एक अधिसूचना में विदेश व्यापार महानिदेशालय (ष्ठत्रस्नञ्ज) ने कहा, प्याज की निर्यात नीति को संशोधित कर तत्काल प्रभाव से और अगले आदेश तक 550 डॉलर प्रति टन के एमईपी के तहत प्रतिबंध से छुटकार कर दिया गया है। 


केंद्र सरकार ने प्याज के निर्यात पर 40 फीसद शुल्क लगाया था, पिछले वर्ष अगस्त 2023 में देश ने 31 दिसंबर, 2023 तक प्याज पर 40 फीसद निर्यात शुल्क लगाया था। 

WhatsApp Group Join Now


आपकी जानकारी के लिए बता दें कि केंद्र सरकार ने 8 दिसंबर, 2023 को इस वर्ष 31 मार्च तक प्याज के निर्यात  पर बैन लगा दिया था, इसके बाद मार्च में निर्यात बैन को अगले आदेश तक बढ़ा दिया गया था। 


प्याज उत्पादन का अनुमान 254.73 लाख टन 
आपको बता दें कि प्याज के कई प्रदेश बड़े उत्पादक हैं, जिनमें महाराष्ट्र, कर्नाटक, आंध्रप्रदेश, राजस्थान सहित सहित अनेक प्रदेश है। केंद्रीय कृषि मंत्रालय ने मार्च 2024 में प्याज उत्पादन के आंकड़े जारी किए थे। 


बता दें कि इन आंकड़ों के मुताबिक 2023-24 (प्रथम अग्रिम अनुमान) में प्याज का उत्पादन पिछले वर्ष के करीबन 302.08 लाख टन की तुलना में करीबन 254.73 लाख टन होने की संभावना है।  आंकड़ों के मुताबिक, महाराष्ट्र में 34.31 लाख टन, कर्नाटक में 9.95 लाख टन, आंध्र प्रदेश में 3.54 लाख टन और राजस्थान में 3.12 लाख टन उत्पादन घटा है।