home page

वरिष्ठ भाजपा नेता गोबिंद कांडा की बेटी संस्कृति कांडा की प्रख्यात उद्योगपति सुरेश गोयल के पुत्र अपॢत गोयल से हुई शादी

सीएम मनोहरलाल, ओडिसा के पूर्व राज्यपाल प्रो. गणेशीलाल, त्रिपुरा के पूर्व सीएम विप्लव देव ने दिया दोनों को आशीर्वाद

ताजा खबरों, बिजनेस, केरियर व नौकरी संबंधित खबरों के लिए

व्हाट्सअप ग्रुप

से जुड़े

 | 
सीएम मनोहरलाल, ओडिसा के पूर्व राज्यपाल प्रो. गणेशीलाल, त्रिपुरा के पूर्व सीएम विप्लव देव ने दिया दोनों को आशीर्वाद

mahendra india news, new delhi

हरियाणा के गुरूग्राम-दिल्ली NH-48 पर स्थित एक भव्य एवं विशाल NH एक्सपीरियंश में आयोजित शाही विवाह समारोह में सिरसा विधायक, पूर्व गृहराज्यमंत्री गोपाल कांडा के  अनुज वरिष्ठ भाजपा  नेता गोबिंद कांडा के पुत्री संस्कृति कांडा ने  प्रख्यात उद्योगपति सुरेश गोयल  के पुत्र अपॢत गोयल के साथ सात फेरे लेकर इक दूजे के हो गए। 

इस शादी समारोह में नवदंपति को ओडिशा के पूर्व राज्यपाल प्रो गणेशी लाल, हरियाणा के  CM मनोहरलाल, हरियााणा भाजपा प्रभारी एवं त्रिपुरा के पूर्व मुख्यमंत्री विप्लव देव, भाजपा के राष्ट्रीय सचिव व हरियाणा के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष एचवं सांसद नायब सिंह सैनी, कृषि मंत्री जेपी दलाल,  चेयरमैन सुभाष बराला,  हरियाणा के पूर्व भाजपा प्रभारी अनिल जैन, प्रमोद जैन, पूर्व मंत्री विपुल गोयल, जत्थेदार बलजीत सिंह दादू,  सिरसा के उपायुक्त पार्थ गुप्ता, झज्जर के पुलिस अधीक्षक डा. अर्पित जैन,हैफेड के चेयरमैन कैलाश भगत, हाईकोर्ट के अधिवक्ता गोरव गोयल और प्रदेशभर से आए गणमान्य लोगों ने  आशीर्वाद दिया।

सभी अतिथियों का विधायक गोपाल कांडा और गोबिंद कांडा ने स्वागत किया। बारात जब मंडप द्वार पर पहुंची तो दूल्हे अर्पित गोयल और बारातियों का भव्य स्वागत किया गया। स्वागत देखकर हर बाराती गदगद दिखाई दिया। अनेक बैंड और ढोल पार्टी इसमें शामिल थी।  ढोल पार्टी आकर्षण का केंद्र रही। भतीजी की शादी में गोपाल कांडा भी नाचे। शाही अंदाज में वरमाला हुई, भारतीय परपंरा के आधर पर शंख और दुदुंभी बजाकर दोनों का स्वागत किया।  इसके बाद फेरे हुए। विद्वान पंडित ने  पूजन और फेरे करवाए। 

वरमाला के बाद वर और वधु पक्ष को  लोगों ने पुष्पवर्षा कर   आशीर्वाद दिया। दूसरी ओर अन्य मंच पर प्रख्यात पार्श्व गायक अरमान मलिक  और सूफी चौधरी  ने शानदार प्रस्तुति देकर सभी को झूमने पर मजबूर कर दिया। दोनों का जादू हर किसी के सिर चढ़कर बोला।

भव्य रूप से सजाए गए  पंडाल में फेरंों की रस्म हुई जहां संस्कृति  और अर्पित ने सात फेरे लेकर सात जन्मों के लिए इक दूजे के हो गए। इसके बाद वो भावुक पल आया जब कांडा परिवार ने लाड़ली बिटिया संस्कृति  को विदा किया। सभी की आंखों से झरता नीर संस्कृति और अर्पित को आशीर्वाद दे रहा था।  वर और वधु दोनों को विधायक गोपाल कांडा, सरस्वती कांडा, गोबिंद कांडा, सरिता कांडा, संगीता कांडा  लखराम कांडा,  छवि कांडा,  राधेश्याम कांडा, धवल कांडा, धैर्य कांडा,  शील-पुनीत नारंग, दया-राहुल, हर्षा कांडा बिंदल-हिमांशु बिंदल आदि ने आशीर्वाद प्रदान किया। विवाह समारोह में गोपाल कांडा के समधि रराजेश मंगला, गोबिंद कांडा के देश के समधि  प्रख्यात उद्योगपति राकेश बिंदल आदि भी मौजूद थे। सिरसा से गए सैकडों गणमान्य लोगोंं ने भी वर-वधु को आशीर्वाद दिया।