home page

समाजसेवी कप्तान मीनू बैनीवाल ने गांव लुदेसर व निर्बाण गांव के किसानों को दी बड़ी सौगात

गांवों में मोगा डालने के कार्य किया शुभारंभ

ताजा खबरों, बिजनेस, केरियर व नौकरी संबंधित खबरों के लिए

व्हाट्सअप ग्रुप

से जुड़े

 | 
गांवों में मोगा डालने के कार्य किया शुभारंभ

mahendra india news, new delhi
समाजसेवी कप्तान मीनू बैनीवाल ने गांव लुदेसर व निर्बाण गांव के किसानों को बड़ी सौगात दी है। दोनों गांवों में लाखों रुपये की लागत से मोगा डालने के कार्य का शुभारंभ सोमवार को करवाया। इस पर किसानों ने भी खुशी व्यक्त करते हुए समाजसेवी कप्तान मीनू बैनीवाल का गर्मजोशी से स्वागत किया। कप्तान समाजसेवी कप्तान मीनू बैनीवाल ने कहा कि किसानों के खेतों में पर्याप्त पानी पहुंचेगा। इससे ही किसान खुशहाल व आर्थिक तौर पर मजबूत होगा। इसी सोच के साथ किसानों के खेतों में सिंचाई पानी पहुंचने के लिए कार्य किया जा रहा है। 


लुदेसर के किसान बोले निहाल कर दिया 
गांव लुदेसर में समाजसेवी कप्तान मीनू बैन्ीवाल ने वरूवाली नहर के 38 हजार लेफ्ट में मोगा डालने के कार्य का शुभारंभ किया। यहां पर करीबन 22 एकड़ में मोगा डालने का कार्य किया जाएगा। इससे टेल पर पड़ने वाले किसानों को भी पानी पर्याप्त मिलेगा। इस दौरान किसानों ने कहा कि समाजसेवी कप्तान मीनू बैनीवाल ने निहाल कर दिया। पानी के अभाव मेें किसानों को काफी परेशानी झेलनी पड़ रही थी। क्योंकि पहले जो खाल बना हुआ था। वह काफी कंडम हो चुका था। इस मौके पर पंचायत समिति के चेयरमैन सूरजभान बूमरा, गांव के सरपंच प्रतिनिधि बलविंद्र सिंह, भाल सिंह गाट, जगनारायण गाट, बुधराम, संजय गाट, बंसीलाल, कदम सिंह, लाधु राम, बृजमोहन, शंकरलाल, रणजीत बाना, बलराम कासनियां प्रदीप कुमार, साधुराम व अन्य ग्रामीण मौजूद रहे। 


किसानों को मिलेगा फायदा 
गांव निर्बाण में समाजसेवी कप्तान मीनू बैनीवाल ने गुडिया खेड़ा माइनर से ।4800 बर्जी से मोगा डालने के कार्य का शुभारंभ किया। यहां पर 20 एकड़ भूमि पर मोगा डालने का कार्य किया जाएगा। इससे किसानों को काफी फायदा मिलेगा। किसानों ने बताया कि यहां पर करीनब दस साल पहले खाले का निर्माण कार्य किया गया। जिसमें काफी घटिया सामग्री का प्रयोग किए जाने से जगह जगह टूट गया। इससे पानी किसानों के खेतों में नहीं पहुंच पा रहा था। अब यहां पर मोगा डालने से किसानों को काफी फायदा मिलेगा। इस अवसर पर गांव के सरपंच दौलतराम, पृथ्वी सिंह,  कुलदीप भांभू, रमन भांभू, जसवंत सिंह, भीम नंबरदार, राजू भांभू, संतलाल कस्वा व गांव के अन्य ग्रामीण मौजूद रहे।