home page

मिर्च की ये किस्में चमका देगी किस्मत, कम लागत में जबरस्त पैदावार, कुछ ही समय में बन जाएंगे लखपति

जानिए मिर्च की इन किस्मों की खेती के बारे में 

 | 
जानिए मिर्च की इन किस्मों की खेती के बारे में 

mahendra india news, new delhi

खेती के तौर तरीके बदल गये हैं। किसान उन्नत किस्मों के बीज से अधिक पैदावार ले रहे हैं। जिससे किसानों की आमदनी भी बढ़ रही है। किसान अब बड़े पैमाने पर सब्जियों की भी खेती करने लगे हैं। जिससे आमदनी बढ़ा रहे हैं। देश में बता दें कि रसोई में मिर्च का महत्वपूर्ण स्थान है, इसके बिना सब्जियों में स्वाद नहीं आता है. इसलिए इसकी मांग हमेशा बनी रहती है। 


आपको बता दें कि मिर्च की खेती विश्व के लगभग सभी देशों में की जाती है,  किसान इसकी खेती करके अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं. अच्छी कमाई के लिए अच्छी पैदावार होनी जरूरी है और अच्छी पैदावार के लिए अच्छी किस्म की मिर्च होना जरूरी है। 


इन किस्मों की करें बिजाई 
बॉयोसीड अजंता हॉट मिर्च की एक उन्नत किस्म है, बता दें कि यह विषाणुजनित बीमारियों के प्रति बेहद सहनशील होते हैं। इस कारण से इसके फल कीटों से सुरक्षित रहते हैं। इस मिर्च का रंग लाल होता है,  हालांकि इसके ताजे फलों का रंग हरा रहता है। इस किस्म के काफी आकर्षक दिखाई देते हैं, क्योंकि इनका छिलका चिकना होता है. इसके एक मिर्च का औसत वजन 6-7 ग्राम तक का होता है।  यह बेहद तीखा होता है, इसलिए इसका अधिकांश उपयोग मसाले के तौर पर किया जाता है। 

WhatsApp Group Join Now


सिजेंटा हॉट एचपीएच 5531 किस्म मिर्च के इस उन्नत किस्म की खासियत यह होती है कि इसका पौधा खड़ा  रहता है। इसी कारण यह काफी मजबूत होती है। इस मिर्च की उपज जल्दी होती है इसके लिए इसकी खेती से किसानों को जल्दी ज्यादा मुनाफा हो जाता है, मिर्च की इस किस्म में मध्यम तीखापन होता है। यह काफी आकर्षक दिखाई देता है।  इसलिए बाजार में यह अच्छी कीमत पर बिकता है. इस मिर्च की लंबाई 15 सेमी तक होती है. पैदावार की बात करें तो एक हेक्टेयर में इसका उत्पादन 90-140 क्विंटल तक किया जाता है। इसकी खेती खरीफ सीजन में की जाती है. 

ननहेम्स इंदु एफ 1 हाईब्रिड हॉट पेपर
इस किस्म मिर्च की इस प्रजाति के पौधे काफी मजबूत होती है। इनके पत्ते गहरे हरे और छोटे होते हैं। इसलिए इनके पौधें सुंदर दिखाई देते हैं, इस मिर्च के पौधों में शाखाएं अधिक होती है इससे यह अधिक उत्पादन देती है। एक्सपोर्ट करने के लिए मिर्च की यह किस्म अच्छी होती है क्योंकि यह लंबे वक्त तक फ्रेश रहती है। इससे किसानों को बाजार तक अपनी फसल पहुंचाने के लिए अच्छा वक्त मिल जाता है। मिर्च की यह वेरायटी अच्छी उपज देने के लिए जानी जाती है। इस मिर्च की खेती खरीफ और रबी दोनों ही सीजन में की जा सकती है।

 

वीएनआर रानी 332 एफ 1 हाइब्रिड 
इस किस्म के वीएनआर रानी 332 एफ1 देश में मिर्च की एक प्रमुख किस्म मानी जाती है. बेहतर क्वालिटी और अधिक उत्पादन ही इस मिर्च की पहचान है.  यह मिर्च जल्दी तैयार होती है, जिससे किसानों को जल्द उत्पादन होता है. मिर्च की यह किस्म बहुत तीखी होती है. रोपाई के 45-50 दिन बाद ही किसान मिर्च के इस किस्म को तोड़कर बाजार में बेच सकते हैं. यह मुख्य तौर पर हरी मिर्च होती है. इसकी लंबाई 12-15 सेमी होत है.  एक हेक्टेयर में इस मिर्च का उत्पादन 80-150 क्विंटल तक होता है. 

महिको तेज 4
इस किस्म के बारे में आपको बता दें कि इस किस्म का इस्तेमाल सबसे अधिक सब्जिों और मसालों में होता है।  इसका फल तेज लाल रंग और चमकदार होता है, इस किस्म की पैदावार भी अच्छी होती है और आकर्षक दिखाई देने के कारण बाजार में अच्छे दाम भी मिलते हैं इससे किसानों को अच्छी कमाई होती है. इस रोग और कीट के प्रति प्रतिरोधक होती है इसलिए इसमें दवा और कीटनाशक का खर्च बचता है. एक हेक्टेयर में इसकी पैदावार 90-160 क्विंटल तक होत है