home page

OYO New Rule: गर्लफ्रेंड को OYO होटल में ले जाने से पहले पढ लें ये नए नियम, अब नहीं कर सकेंगे ये काम

 | 
 OYO New Rule: गर्लफ्रेंड को OYO होटल में ले जाने से पहले पढ लें ये नए नियम, अब नहीं कर सकेंगे ये काम

OYO New Rule : देश के कई शहरों और कस्बों में आजकल गेस्ट हाउस, होमस्टे और ओयो होटल काफी संख्या में अवैध रूप से खुल गए हैं और इन होटलों और गेस्ट हाउस में कई तरह की अवैध गतिविधियां लगातार हो रही हैं। हालांकि इन होटलों और गेस्ट हाउस को कानूनी प्रक्रिया के दायरे में लाने के लिए सरकार की ओर से नए नियमों का प्रस्ताव तैयार किया गया है.

इस प्रस्ताव के तहत सभी होटल, गेस्ट हाउस, होमस्टे या ओयो होटल आदि को अपना रजिस्ट्रेशन कराना बेहद अनिवार्य होगा। इन होटलों में आने वाले मेहमानों की पूरी डिटेल से उनकी सुरक्षा के मानक तय किए जाएंगे।

सभी होटलों को इन नियमों का पालन करना अनिवार्य होगा, अन्यथा उनके होटल को सील कर दिया जाएगा। पुलिस इन होटलों को चलाने वालों की जवाबदेही भी तय कर रही है।

WhatsApp Group Join Now

जैसे-जैसे शहरों और कस्बों में व्यापार और व्यावसायिक गतिविधियां बढ़ रही हैं और पर्यटकों का आगमन बढ़ रहा है, गेस्ट हाउस होटल और होमस्टे की मांग भी बढ़ रही है।

आजकल हम देखते हैं कि हमारे आसपास गलियों में कई होटल खुल गए हैं, लेकिन वे किसी भी तरह के नियम-कायदों का पालन नहीं करते हैं। ऐसे अवैध गेस्ट हाउस, होमस्टे और ओयो होटलों पर प्रतिबंध लगाने के लिए नियम बनाना सरकार के लिए अनिवार्य हो गया था।

लंबे समय से देखा जा रहा हैं कि इन होटलों और गेस्ट हाउसों में तस्करी, देह व्यापार या अन्य अवैध गतिविधियां लगातार हो रही थीं। इन होटलों, गेस्ट हाउस या होम स्टे पर सरकार द्वारा लगातार छापेमारी के बावजूद यह सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है. इसलिए सरकार ने इन होटलों पर प्रतिबंध लगाने के लिए पूरे नियम कानून बनाए हैं।

गृह विभाग के अधिकारियों ने बताया कि ये संस्थाएं मौजूदा नियम-कायदों की कमियों का लगातार फायदा उठा रही हैं और कानूनी कार्यवाही से बचती हैं. रजिस्ट्रेशन न होने की स्थिति में ऐसे होटलों की रिपोर्ट करना और जांच करना मुश्किल हो गया है। इन सबके अलावा होटलों में अग्नि सुरक्षा, चिकित्सा और पर्यटक सुविधाओं के पूरे इंतजाम नहीं हैं।

जैसे सीसीटीवी नहीं होना या मेहमानों के आने पर किसी तरह की आईडी जमा नहीं करना। ऐसे में किसी भी तरह की दुर्घटना होने पर आरोपी की पहचान करना काफी मुश्किल होता है। इन सभी के मामले लगातार बढ़ रहे हैं, सरकार द्वारा इन सभी को रोकने के लिए नियम तैयार किए गए हैं और इन्हें जल्द ही लागू किया जाएगा.

गृह विभाग की ओर से बनाए जा रहे नए नियमों के तहत होटल गेस्ट हाउस या अन्य होमस्टे का अनिवार्य पंजीकरण शुरू करने के लिए ऑनलाइन पोर्टल शुरू किया जाएगा।

जिसमें विभिन्न शर्तों का पालन नहीं करने पर उन संस्थानों को सील या अटैच कर दिया जाएगा या उन पर हमेशा के लिए प्रतिबंध लगा दिया जाएगा।

यदि किसी प्रकार की अनियमितता पायी जाती है तो उन संस्थाओं को जीवनपर्यंत व्यावसायिक गतिविधियों से प्रतिबंधित कर दिया जायेगा।

इन होटलों में आने वाले मेहमानों को भी कुछ नियमों का पालन करना होगा, उन्हें बिना पहचान पत्र के होटल में प्रवेश नहीं दिया जाएगा

और जब भी कोई कानूनी कार्रवाई होगी, उन्हें उस कानूनी कार्रवाई में सहयोग करना होगा.