home page

विश्व रंगमंच दिवस के उपलक्ष्य में सिरसा में दी नुक्कड़ नाटक इंकलाब जिंदाबाद की प्रस्तुति

 | 
 नुक्कड़ नाटक इंकलाब जिंदाबाद से दिया देशभक्ति का संदेश
mahendra india news, new delhi

हरियाणा के सिरसा में शहीद भगत सिंह खेल स्टेडियम में बुधवार को विश्व रंगमंच दिवस के उपलक्ष्य में केएल थियेटर प्रोडक्शन्स और जेसीडी रंगशाला के कलाकारों ने शहीद भगत सिंह के जीवन पर आधारित नुक्कड़ नाटक इंकलाब जिंदाबाद का मंचन किया गया। 

इस नुक्कड़ इंकलाब जिंदाबाद के माध्यम से शहीद भगत सिंह व उनके साथियों द्वारा देश को आजाद करवाने के लिए किए गए उनके संघर्षों व अपने देश के लिए उनके द्वारा दी गई कुर्बानियों को बखूबी दिखाया गया। इंकलाब जिंदाबाद नुक्कड़ नाटक के माध्यम से दर्शकों को देशभक्ति का संदेश देकर उनमें देशप्रेम की भावना को जागृत किया। 


इस दौरान मौजूदा सभी दर्शकों ने भी प्रस्तुत नुक्कड़ नाटक का आनंद ही लिया, बल्कि खूब सराहना की। युवा नाटक निर्देशक कर्ण लढा ने कहा कि विश्व रंगमंच दिवस के उपलक्ष्य में केएल थियेटर प्रोडक्शन्स और जेसीडी रंगशाला के कलाकारों द्वारा आमजन को नुक्कड़ नाटक के माध्यम से देशभक्ति का संदेश दिया गया कि आजादी के लिए अपने प्राणों की आहुति देकर इंकलाब की आवाज बनने वाले अमर शहीदों को हम सभी सदैव याद रखें व उनके इतिहास को जानें और प्रत्येक नागरिक अपने देश के प्रति कर्त्तव्यों को समझते हुए राष्ट्र को विकसित राष्ट्र बनाने में अपनी विशेष भूमिका अदा करें।

WhatsApp Group Join Now

 आज विश्व रंगमच दिवस के विशेष अवसर पर हमनें नुक्कड़ नाटक के माध्यम से आमजन से रूबरू होने का फैसला इस लिया कि वास्तव में रंगमंच एक ऐसा माध्यम है, जो आम जनता को हमारी देश की पौराणिक संस्कृति, कला-साहित्य और इतिहास से अवगत करवाता है। रंगमच केवल आपका-हमारा मनोरंजन ही नहीं करता बल्कि चिंतन करने पर विवश करता है कि आज समाज में जो भी कुरीतियां हैं, उनका सामना, उनको खत्म कैसे किया जा सके। आज युवा पीढ़ी को रंगमंच से केवल जुड़ने ही नहीं, बल्कि उसे अपने अंदर पूरा धारण की जरूरत है। क्योंकि रंगमंच व्यक्ति की अभिव्यक्ति का विकास करता है, उसमें सही-गलत को चुनने और साहस से अपनी बात कहने का हौंसला प्रदान करता है। 


मेरा आज की युवा पीढ़ी और उनके अभिभावकों से विशेष आग्रह है कि मोबाइल, टेलीविजन, सोशल मीडिया काल्पनिक जिंदगी से बाहर आकर रंगमच की वास्तविक दुनियां से जुड़ें। रंगमच के माध्यम से स्वयं को खोजें और अपने वास्तविक किरदार को जानकर अपने कर्म-कर्तव्यों को पालन राष्ट्र विकास में अपना योगदान दे। इसी पहल में इस वर्ष जेसीडी रंगशाला और केएल थियेटर प्रोडक्शन्स के संयुक्त संयोजन से एक ऐतिहासिक प्रयास किया गया है कि जिला सिरसा में एक वर्षीय रंगमच और फिल्म का सर्टिफिकेट कोर्स शुरू किया रहा है। ये कोर्स रंगमंच और फिल्म में काम करने वाले कलाकारों के लिए नींव का पत्थर साबित होगा। 

जिसमें रंगमच और फ़िल्म के मूल बिंदुओं को सिखाया जाएगा और राष्ट्र स्तर के रंगगुरु आकर अपनी मास्टर क्लासिज भी देंगे। इसमें दाखिले से सबंधित पूरी जानकारी आपको जेसीडी विद्यापीठ में संचालित जेसीडी रंगशाला परफॉर्मिंग आर्ट्स स्कूल से मिलेगी।
फोटो: