home page

जनसंदेश रैली में कांग्रेस के सच्चे सिपाही राजेश चाडीवाल की मेहनत लाई रंग

पिता-पुत्र की जोड़ी गोपीराम चाडीवाल व राजेश चाडीवाल ने सैलजा को भेंट किए हल

ताजा खबरों, बिजनेस, केरियर व नौकरी संबंधित खबरों के लिए

व्हाट्सअप ग्रुप

से जुड़े

 | 
 पिता-पुत्र की जोड़ी गोपीराम चाडीवाल व राजेश चाडीवाल ने सैलजा को भेंट किए हल

mahendra india news, new delhi

हरियाणा के सिरसा में अनाजमंडी SIRSA में उमड़ा जनसैलाब यह बताने के लिए काफी था कि प्रदेश की जनता अब सत्ता में बदलाव चाहती है और इसकी बानगी SIRSA में हुई जनसंदेश रैली में देखने को बखूबी मिली। यह पहला अवसर था जब रैली स्थल पर उमड़ी भीड़ ने एक स्वर में कांग्रेस को सत्ता में लाने और गठबंधन सरकार को सत्ता से जाने के लिए हुंकार भरी थी। खचाखच भरे मंडी परिसर में अटी कांग्रेस की ध्वजाएं सीधे तौर पर यह इंगित कर रही थी कि अब गठबंधन सरकार के जाने का वक्त तय हो गया है और यह जनसंदेश यात्रा गठबंधन सरकार के ताबूत में अंतिम कील सिद्ध होगी।

सच्चे सिपाही की बोल रही थी मेहनत:
भीड़ के लिहाज से नई इबारत गढ़ने वाली इस जनसंदेश रैली की सफलता का परिचायक राजेश चाडीवाल सरीखे नौजवान से लिया गया, जिन्होंने अपनी टीम के साथ इस रैली की सफलता के लिए दिन रात पसीना बहाया। अपने अग्रज व सिरसा के पूर्व सांसद चरणजीत सिंह रोड़ी के साथ सिरसा के सभी पांचों विधानसभा हलकों के प्रत्येक गांव में जन-जन के बीच पहुंचे राजेश चाडीवाल ने हज़ारों लोगों को इस रैली के लिए आमंत्रित किया था। इसी आमंत्रण का प्रत्यक्ष प्रमाण इस रैली में स्पष्ट देखने को मिला जब सभी पांचों हलकों से उनके नेतृत्व की गूंज सुनाई दी। बसों, कारों, वैन, ट्रैक्टर-ट्रॉलियों पर लगे उनके चित्रों से ही यह परिभाषित हो रहा था कि जन-जन तक पहुंचने का सिलसिला चाडीवाल द्वारा किस कदर रहा होगा। पिता-पुत्र की जोड़ी गोपीराम चाडीवाल व राजेश चाडीवाल ने भरे मंच पर कुमारी सैलजा को हल भेंट कर स मानित किया।


अभिभूत नज़र आए कांग्रेस के दिग्गज नेता:
यूं तो सभी कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने अपने-अपने स्तर पर इस रैली की सफलता के लिए प्रयास किए, मगर HARYANA प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रतिनिधि राजेश चाडीवाल की मेहनत इस रैली में कुछ अलग ही नजर आ रही थी। उनके कुशल नेतृत्व में पहुंची हजारों की भीड़ यह दर्शा रही थी कि इस रैली की सफलता के लिए राजेश चाडीवाल ने पिछले एक सप्ताह से अपनी पूरी ताकत झोंकी हुई है। कांग्रेस के नेतृत्व में उमड़े जनसैलाब से गदगद हुई पूर्व केंद्रीय मंत्री कुमारी सैलजा, सांसद रणदीप सुरजेवाला समेत तमाम कांग्रेसी दिग्गजों ने इस बात पर मोहर लगा दी कि वर्ष 2024 में हरियाणा में सत्ता परिवर्तन अवश्य होगा और प्रदेशवासी कांग्रेस को विकास के लिए फिर चुनेंगे।

रगों में दौड़ता है कांग्रेसी लहू: चाडीवाल
इस जनसंदेश रैली की सफलता में सर्वाधिक सशक्त आधार बने हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रतिनिधि राजेश चाडीवाल बेहद सरलता, सहजता, विनम्रता व धैर्यपूर्ण तरीके से कहते हैं कि वे कांग्रेस के सच्चे सिपाही हैं। देश में कांग्रेस की बड़ी नेत्री कुमारी सैलजा के दिशा निर्देश उनके लिए भगवान की आवाज है। जैसी भी, जिस भी परिस्थिति में उन्हें पार्टी संगठन के लिए जो भी आदेश दिया गया है वे अब तक उसे अमलीजामा पहनाते आए हैं और भविष्य में भी यह क्रम जारी रहेगा। चाडीवाल कहते हैं कि जिस प्रकार कांग्रेस ने अपने लंबे संघर्ष और बलिदानों से देश को अंग्रेजी राज से मुक्ति दिलाई थी, ठीक उसी तर्ज पर अब कांग्रेस नेत्री कुमारी सैलजा के नेतृत्व में HARYANA में भी प्रदेशवासियों को अन्याय व अत्याचारी गठबंधन सरकार से मुक्ति दिलाई जाएगी। 

इस अवसर पर पूर्व सांसद चरणजीत सिंह रोड़ी, गोपीराम चाडीवाल, पवन बैनीवाल, वीरभान मेहता, विनित कंबोज, संदीप नेहरा, जग्गा बराड़, संतोष बैनीवाल, रतन गेदर, पूर्व जिला पार्षद मलकीत रंधावा, जिला पार्षद कर्मजीत कौर, तेजभान पटवारी, प्रेम शर्मा, करनैल सिंह, लादुराम पूनियां, सुरेंद्र बंसल, छोटू सहारण, केशव गोयल, सतपाल मेहता, कुनाल खोड, नरेश दड़ोलिया, सुरजीत भावदीन, बलविंद्र सरपंच, हरविंद्र कंबोज, उर्मिला भारद्वाज, भूपिंद्र ठाकुर, फकीर चंद, विजय शर्मा, शगनदीप बराड़, बलविंद्र नेहरा, बूटा सिंह थिंद, दुर्गा सिंह सरपंच, रामचंद्र लिंबा, हरजवंत सिंह, मंजू रानी पूर्व जिला पार्षद, वेद डांगी, दलीप नेजिया, प्रताप सरपंच ठोबरियां, मांगेराम सरपंच कागदाना, सुभाष सरपंच माखोसरानी, अशोक लांबा, रामसिंह कागदाना, खेताराम, दयाराम सहित अन्य उपस्थित थे।