home page

किसी भी किसान की अटक गई पीएम किसान सम्‍मान निधि की किस्‍त, ऐसे घर बैठे पाएं समाधान

बैंक या सरकारी दफ्तर भटकने की जरूरत है, पिछली किस्‍त का पैसा भी मिलेगा

ताजा खबरों, बिजनेस, केरियर व नौकरी संबंधित खबरों के लिए

व्हाट्सअप ग्रुप

से जुड़े

 | 
बैंक या सरकारी दफ्तर भटकने की जरूरत है, पिछली किस्‍त का पैसा भी मिलेगा

mahendra india news new delhi
केंद्र सरकार ने किसानों के लिए बहुत ही सराहनीय योजना चलाई हुई है। ये योजना है पीएम किसान सम्मान निधि। इस योजना से किसानों को काफी फायदा मिल रहा है। अगर किसी किसान की पीएम किसान सम्‍मान निधि की किस्‍त पहुंचाना बंद हो गई है तो इसके लिए परेशान होने की जरूरत नहीं है और न ही किसी बैंक या सरकारी कार्यालय भटकने की जरूरत है. कृषि एवं किसान कल्‍याण मंत्रालय ऐसे किसानों को राहत देने के लिए 12 फरवरी से अभियान चलाया जा रहा है, इसके माध्‍यम से इस समस्‍या का समाधान अब घर बैठे हो सकेगा। 

आपको बता दें कि PM किसान सम्‍मान निधि की 15वीं किस्‍त किसानों के खाते में जा चुकी है, इसका 8.12 करोड़ किसानों को मिला है। इसी के साथ अब 16वीं किस्‍त जाने वाली है. लेकिन काफी संख्‍या में ऐसे किसान भी हैं, जिनको पहले इस स्कीम का लाभ मिलता था, लेकिन अब उनकी किश्त बंद हो गई है. उन्‍हें समझ में नहीं आ रहा है कि किस्‍त मिलनी क्‍यों बंद गई है. किसानों की इसी परेशानी का समाधान करने के लिए कृषि मंत्रालय अभियान चला रहा है। इससे किसानों की पीएम किसान सम्‍मान निधि संबंधी समस्‍या का समाधान घर बैठे समाधान हो जाएगा। 

चलाया जाएगा अभियान:
कृषि मंत्रालय के मुताबिक 12 फरवरी से 21 फरवरी के बीच प्रधानमंत्री किसान सम्‍मान निधि के लिए अभियान शुरू किया जाएगा। इसमें प्रदेशों की सरकारें और जिला प्रशासन मिलकर देशभर के 3 लाख से अधिक कामन सर्विस सेंटर की सहायता से यह अभियान चलेंगा, इसके लिए जिन पात्र किसानों की प्रधानमंत्री सम्‍मान निधि की किस्‍त मिलनी बंद हो गई है, उसकी केवल दो वजह हो सकती हैं, पहली किसान का केवाईसी नहीं किया हुआ हो और दूसरा बैंक खाते से आधार लिंक न हुआ हो। इन दोनों समस्‍याओं का समाधान कराने के लिए यह अभियान चलाया जाएगा। इसके तहत जिला प्रशासन जरूरत के मुताबिक गांव या ब्‍लॉक में कामन सर्विस सेंटर के शिविर लगाने जा रहा है।यहां पर बैठे कर्मचारी किस्‍त अटकने का कारण देखेंगे और मौके पर उसका समाधान कराएंगे। 

इस दिन से फिर होगी झमाझम बरसात, फिर से बदलेगा मौसम, बढ़ाएगी कंपाने वाली ठंड

पिछली किस्‍त का पैसा भी मिलेगा
आपको ये भी बता दें कि जिन पात्र किसानों का केवाईसी या आधार लिंक न होने से प्रधानमंत्री सम्‍मान निधि की किस्‍त मिलनी बंद हो गई है। केवाईसी या बैंक खाते में आधार लिंक होते ही मौजूदा किस्‍त के साथ बकाया पिछली किस्‍त का भी भुगतान हो जाएगा। इसलिए किसान गांव या ब्‍लाक में लगने वाले विशेष शिविर में पहुंचकर कमियों को जरूर पूरा कराएं।