home page

डीजल की गाड़ी चलाते समय कभी नहीं करनी चाहिए गलतियां, आप कोल्ड रेविंग से बचने के साथ एग्जॉस्ट पर दें ध्यान

भारतीय बाजार में डीजल कारों काफी डिमांड

ताजा खबरों, बिजनेस, केरियर व नौकरी संबंधित खबरों के लिए

व्हाट्सअप ग्रुप

से जुड़े

 | 
भारतीय बाजार में डीजल कारों काफी डिमांड

mahendra india news, new delhi

आज के समय दुघर्टना से बचने के लिए पूरा ध्यान देना जरूरी हो गया है। क्योंकि जरा से लापरवाही से बड़ी दुघर्टना हो जाती है। विश्वभर में लगातार सख्त हो रहे एमीशन नॉर्म के चलते लगातार डीजल कारों की मांग घटती जा रही है। भारतीय बाजार में डीजल कारों काफी डिमांड है और सड़कों पर ये भारी मात्रा में फर्राटा भरते हुए नजर आती हैं।


आपको बता दें कि वैसे देखे तो अगर भविष्य में डीजल कारों को बंद किया जाता है, तो इसका सबसे अधिक असर मारुति सुजुकी और हुंडई पर पड़ेगा। 


बचें कोल्ड रेविंग से 
आपको बता दें कि इंजन चालू करने के बाद उसे गर्म होने के लिए कुछ वक्त देना जरूरी है। इंजन को गर्म होने के लिए कुछ वक्त देने से पावरट्रेन को लंबे समय तक आकार में रहने और अच्छा प्रदर्शन देने में सहायता मिलेगी। कोल्ड रेविंग का मतलब है कि आप इंजन को चालू करने के तुरंत बाद उसे घुमाना शुरू कर देते हैं। कोल्ड रेविंग से पावर मिल को नुकसान हो जाता हीै।  स्टैटिक मोड में तेल गाढ़ा होता है और चिकनाई काफी कम होती है। इससे पिस्टन, पिस्टन रिंग, वाल्व और सिलेंडर जैसे महत्वपूर्ण कंपोनेंट के वक्त से पहले खराब होने का खतरा बढ़ सकता है।


एग्जॉस्ट पर ध्यान दें
आपको बता दें कि किसी डीजल कार को उसके एग्जॉस्ट से काला धुआं निकलते हुए देखना वाहन और पर्यावरण के लिए काफी खतरनाक है। लंबे वक्त में यह आपके वाहन के लिए परेशानी भरा हो सकता है। एग्जॉस्ट से निकलने वाला धुआं इस बात का संकेत है कि पावरट्रेन में कुछ गड़बड़ है। ठंड के मौसम में वाहनों से कुछ धुआं निकलना आम बात है, जो आम तौर पर वाष्प होता है।


आपको बता दें कि सामान्य मौसम की स्थिति में एग्जॉस्ट से निकलने वाले धुआं का मतलब है कि इंजन में कुछ गड़बडी है। एग्जॉस्ट से निकलने वाले काला धुआ का मतलब अत्यधिक ईंधन खपत, खराब इंजेक्टर या इंजन से संबंधित अन्य कोई परेशानी हो सकता है। सफेद धुआं निकलने की वजह इंजन का कूलेंट लीक होना भी हो सकता है।

डीपीएफ को साफ रखें
आपको बता दें कि डीपीएफ या डीजल पार्टिकुलेट फिल्टर, डीजल वाहनों के लिए एक आवश्यक कंपोनेंट होता है। ये वाहन से वातावरण में हानिकारक उत्सर्जन तत्वों को रोकता है और कम करता है। इसे नियमित सर्विस और मेंटेनेंस के साथ साफ रखे। डीपीएफ कालिख और कणों से भर सकता है। इसके कारण से इंजन की पावर, परफॉरमेंस और एफिशियंशी में परेशानी हो सकती है। इसलिए, डीजल कार को दुरुस्त रखने के लिए डीपीएफ का वक्त पर निरीक्षण और सफाई आवश्यक है।