home page

UP News: मेरठ से प्रयागराज का सफर होगा बिल्कुल आसान, जल्द ही तैयार हो जाएगा ये सुपरफास्ट एक्सप्रेसवे, मिलेगा ये बड़ा फायदा

 | 
UP News: मेरठ से प्रयागराज का सफर होगा बिल्कुल आसान, जल्द ही तैयार हो जाएगा ये सुपरफास्ट एक्सप्रेसवे, मिलेगा ये बड़ा फायदा 

Ganga Expressway : देशभर में सड़कों का जाल से बिछा रहा है। इससे लोगों को भी बेहतर सुविधा मिल रही है। अब देश में महाकुंभ से पहले उत्तर प्रदेश को बड़ी सौगात मिली है। यूपी की जनता को महाकुंभ 2025 से पहले एक बड़ी सौगात मिलने वाली है वाली है। आपको बता दें कि 594 किलोमीटर लंबे इस एक्सप्रेस-वे पर इस वर्ष दिसंबर तक ट्रैफिक शुरू हो जाएगा। 

पांच सौ से अधिक गांव से होकर गुजरेगा एक्सप्रेस-वे
आपकी जानकारी के लिए बता दें कि देश का दूसरा सबसे लंबा एक्सप्रेस-वे यूपी के 518 गांव से होकर गुजरेगा। गंगा एक्सप्रेस-वे एक दर्जन जिलों को सीधे तौर पर जोड़ेगा। फिलहाल देश में सर्वाधिक एक्सप्रेस-वे वाला प्रदेश उत्तर प्रदेश है। 

WhatsApp Group Join Now

तैयारी की जा रही है तेज
आपको बता दें कि महाकुंभ से पहले मेरठ से प्रयागराज तक बनने वाला गंगा एक्सप्रेस-वे शुरू हो जाएगा, प्रदेश सरकार ने इसकी तैयारी तेजी से शुरू कर दी है। 

मेरठ से प्रयागराज
इसके चालू होने से मेरठ से प्रयागराज तक का सफर मात्र 6 घंटे में पूरा हो सकेगा, अभी तक इस पर सफर में करीबन 10 से 12 घंटे का वक्त लगता है। 

कुंभ में आने वालों को होगा फायदा
आपके बता दें कि 2025 महाकुंभ से पहले इस एक्सप्रेस-वे के तैयार होने से राजधानी दिल्ली और यूपी के दूसरे हिस्सों से कुंभ में शामिल होने आने वाले आमजन को फायदा होगा। इस एक्सप्रेस-वे पर कुल 1481 स्ट्रक्चर यानि छोटे बड़े पुल और आरओबी बनने का प्रस्ताव है।  इसमें से 1085 स्ट्रक्चर का निर्माण लगभग पूरा हो चुका है। 

इस एक्सप्रेस-वे पर पर सुविधा भी बेहतर है। इस पर 9 जनसुविधा परिसरों का निर्माण किया जाएगा. मुख्य टोल प्लाजा (मेरठ और प्रयागराज) 2 स्थानों पर प्रस्तावित हैं, जबकि रैम्प टोल प्लाजा 15 स्थानों पर प्रस्तावित हैं। 

यह एक्सप्रेस वे मेरठ,हापुड़, बुलंदशहर, अमरोहा, संभल, बदायूं, शाहजहांपुर, हरदोई, उन्नाव, रायबरेली,प्रतापगढ़ और प्रयागराज से गुजरेगा। 

आपको बता दें कि एक्सप्रेस-वे का निर्माण कार्य करने वाली कंपनी के अनुसार स्ट्रक्चर बनाने में सबसे ज्यादा समय लगता है. ज्यादातर काम पूरा है इसलिए सड़क बनाने का काम 6 माह से 8 माह में पूरा होने की संभावना है। 

गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे का निर्माण कार्य भी इस वर्ष पूरा होने की संभावना है। यूपीडा के अनुसार एक्सप्रेस-वे का ज्यादातर काम पूरा हो गया है। इसमें कुछ बड़े स्ट्रक्चर्स पर थोड़ा बहुत काम बचा है.